menu search
brightness_auto
more_vert
मैं हैंडसम नहीं हूं लेकिन मैं अपना हाथ किसी ऐसे व्यक्ति को दे सकता हूं, जिसे मदद की जरूरत हो .
thumb_up_off_alt 500 like thumb_down_off_alt 0 dislike

1 Answer

more_vert
 
verified
Best answer

मैं हैंडसम नहीं हूं लेकिन मैं अपना हाथ किसी ऐसे व्यक्ति को दे सकता हूं, जिसे मदद की जरूरत हो … क्योंकि खूबसूरती की जरूरत दिल में होती है, चेहरे पर नहीं.

~APJ abdul kalam {I am not handsome  to but I can give my hand someone who need help… Because beauty is required in heart ,not on face}

मैं हैंडसम नहीं हूं लेकिन मैं अपना हाथ किसी ऐसे व्यक्ति को दे सकता हूं, जिसे मदद की जरूरत हो

अब्दुल कलाम का है qoute  आपने सुना ही होगा , यहाँ पे सब्दो को बड़े ही गहराई से पिरोया गया है , हलाकि ये वाक्य अंग्रेजी में है।  लेकिन समझ में आता है , और इसका हिंदी अनुवाद बहोत जगह available  है, google  सर्च पे मिल जाता है।  और  इसका अर्थ हिंदी एवं हर भासा में है , चलिए इसका विश्लेषण समझते है।  

मैं हैंडसम नहीं हूं।  

इसका अर्थ है , की आप काले हो या फिर गोरे , इससे कोई फर्क नहीं पड़ता ,व्यक्ति का व्यक्तित्व  मायने रखता है।  

APJ Abdul Kalam  कहते है की , वे सुन्दर नहीं है लेकिंन , बहार से सुन्दर होना ही क्या सबकुछ होता है ?।  क्या अंदर की सुंदरता मायने नहीं रखती ?

इसका जवाब यह है की , इंसान की अंदर की सुंदरता ज्यादा मायने रखती है।  उससे इंसान की पहचान बनती है , जो उसके व्यक्तित्व को निखरता है।  और उसे सफल होने में मदद करता है।  

चलिए एक उदहारण से समझते है।  

एक बहुत सुन्दर व्यक्ति जैसे की किसी को भी आप समझ सकते है , और एक तरफ अब्दुल कलाम जी आप किसे अपना आदर्श बनांयेंगे।  

कमेंट में बताये। 

इससे मिलता जुलता कहावत है ,

मन मैला तन ऊजला बगुला कपटी अंग। तासों तो कौआ भला तन मन एकही रंग॥

~~कबीर दास ‘

मैं हैंडसम नहीं हूं लेकिन मैं अपना हाथ किसी ऐसे व्यक्ति को दे सकता हूं, जिसे मदद की जरूरत हो

लेकिन मैं अपना हाथ किसी ऐसे व्यक्ति को दे सकता हूं, जिसे मदद की जरूरत हो।  

अब्दुल कलाम जी ने कहा की मई ऐसे व्यक्ति की मदद कर सकता हु जिसे मदद की जरूरत

हो।  इसका मतलब यही है की हमें हमारे कर्म महान बनते है या फिर  सैतान।  

 इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है, 

हर कर्मो का फल मिलता है ,

आज नहीं तोह कल मिलता है। 

जितना गहरा हो कुआ ,

उतना मीठा जल मिलता है । 

जीवन के हर मुश्किल प्रश्न का , 

जीवन से ही हल मिलता है। 

मतलब की आप दुसरो की मदद करेंगे , तोह कही न कही दूसरे आप की भी मदद करेंगे।  

तोह दोस्तों आज की इस पोस्ट से आप को क्या समझा आप हमें जरूर बताये ।  

चलिए एक सिंपल से example  से समझते है , 

एक दिन एक बच्चा जंगल में जाता है , और उसने देखा  की एक हाथी बहुत भूखा था , और लड़के के पास कुछ ऊँख था , तोह उसने उसकी मदद की , कुछ देर बाद लड़के पे एक  शेर ने हमला कर दिया।  तोह आप समझ सकते है की हाथी ने मदद की होगी। 

 धन्यवाद् 

 by  अजिंक्य गुप्ता {हिंदी लेखक}

thumb_up_off_alt 500 like thumb_down_off_alt 0 dislike

Related questions

thumb_up_off_alt 500 like thumb_down_off_alt 0 dislike
1 answer

5.2k questions

4.7k answers

75 comments

393 users

...